गुरुवार, 7 जून 2018

ताम्बे से बनते हैं कई मिश्रधातु / Many Alloys are Made with Copper

-शीतांशु कुमार सहाय 
ताम्बे को विभिन्न धातुओं में मिलाकर अलग-अलग प्रकार के मिश्रधातुओं का निर्माण किया जाता है। ऐसे कुछ मिश्रधातुओं के बारे में आप भी जानिये--    
पीतल (Brass) : इस में ताँबा 73-66 तथा जस्ता 27-34 प्रतिशत तक होता है। पीतल का उपयोग चादर, नली तथा बरतन बनाने में होता है।
काँसा या घंटा धातु (Bronze or Bell metal) : इस में ताँबा और टिन की मात्रा क्रमश: 75-80 प्रतिशत और 25-20 प्रतिशत तक होती है। काँसा से घंटे आदि बनते हैं।
ऐल्युमिनियम-पीतल (Aluminimum-brass) : इस के संगठन में ताँबा, जस्ता और ऐल्युमिनियम हैं, जो क्रमश: 71-55, 26-42 तथा 1-6 प्रतिशत तक होते हैं। ऐल्युमिनियम-पीतल का उपयोग पानी के जहाजों तथा वायुयान के नोदकों (propeller) के निर्माण में होता है।
ऐल्युमिनियम-काँसा (Aluminimum-bronze) : इस में ताँबा 99-89 तथा ऐल्युमिनियम 1-11 प्रतिशत तक होता है। यह अति कठोर तथा संक्षारण अवरोधक होता है। ऐल्युमिनियम-काँसा के बरतन बनते हैं।
बबिट (Babit) धातु : इस में टिन, ऐंटीमनी तथा ताँबा की मात्रा क्रमश: 89 प्रतिशत, 7.3 प्रतिशत तथा 3.7 प्रतिशत होती है। बबिट का मुख्य उपयोग बॉल बियरिंग बनाने में होता है।
कॉन्स्टैंटेन (Constantan) : इस में तांबा 60-45, निकल 40-55, मैगनीज 0-1.4, कार्बन 0.1 प्रतिशत तथा शेष लोहा होता है। कॉन्स्टैंटेन का उपयोग वैद्युत-तापमापक यंत्रों तथा ताप वैद्युत-युग्म (thermocouple) बनाने में होता है, क्योंकि यह विद्युत्‌ का प्रबल प्रतिरोधक होता है।
डेल्टा धातु (Delta metal) : इस में ताँबा 54-56, जस्ता 40-44, लोहा 0.9-1.3, मैंगनीज 0.8-1.4 और सीसा 0.4-1.8 प्रतिशत तक होता है। यह मृदु इस्पात के समान मजबूत है, किंतु उस की तरह सरलता से जंग खाकर नष्ट नहीं होती। डेल्टा धातु का उपयोग पानी के जहाज बनाने में होता है।
जर्मन सिल्वर : इस में ताँबा 55, जस्ता 25 और निकल 20 प्रतिशत होता है। कुछ वस्तुओं को बनाने में चाँदी के स्थान पर जर्मन सिल्वर का उपयोग करते हैं, क्योंकि इस से बनी वस्तुएँ चाँदी के समान ही होती हैं।
गन मेटल (Gun metal) : इस में ताँबा ७१-९५, टिन ०-११, सीसा ०-१३, जस्ता ०-५ तथा लोहा ०-१.४ प्रतिशत तक होता है। इस से बटन, बिल्ले, थालियाँ तथा दाँतीदार चक्र (gear) बनाए जाते हैं।
पर्मलॉय (Permalloy) : इस में निकल 78, लोहा 21, कोबल्ट 0.4 प्रतिशत तथा शेष मैगनीज, ताँबा, कार्बन, गंधक और सिलिकन होते हैं। इस से टेलीफोन के तार बनाये जाते हैं।
टिन की पन्नी (Tin foil) : इस में टिन 88, सीसा 8, ताँबा 4 और ऐंटिमनी 0.5 प्रतिशत होते हैं। यह पन्नी सिगरेट और खाद्य वस्तुओं को सुरक्षित रखने के लिए उन के ऊपर लपेटी जाती है।
डच मेटल (Dutch metal) : इस में ताम्बा 80 प्रतिशत और जस्ता 20 प्रतिशत होता है।
मोनल धातु (Monal metal) : इस में ताम्बा 27 प्रतिशत, निकिल 70 प्रतिशत और लोहा 3 प्रतिशत होता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

आलेख या सूचना आप को कैसी लगी, अपनी प्रतिक्रिया दें